श्री अभय वीर चौहान

श्री अभय वीर चौहान

पुलिस महानिरीक्षक, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल

पुलिस महानिरीक्षक का संदेश

फोटो गैलरी

वीडियो गैलरी

जम्मू सेक्टर जम्मू सेक्टर

सेक्टर की जानकारी :-


(अ) सेक्टर कार्यालय:-

बटालियनों पर सामान्य प्रशासनिक नियंत्रण करने के अलावा, सेक्टर कार्यालय को निम्नलिखित जिम्मेदारी सौंपी गई है:- 
(i)  जम्मू व कश्मीर आधारित यूनिटों के लिए सेक्टर स्टोर की प्राप्ति, डिफेंस स्टोर, विषेश उपकरण, बुलेट प्रूफ वाहन और 
(ii) फील्ड कर्मशाला के माध्यम से जम्मू व कश्मीर आधारित यूनिटों के वाहनों की मरम्मत कराना।

(आ) रेंजें:-

रेंज कार्यालय का अपने संबंधित कार्यालय/यूनिटों पर प्रशासनिक/परिचालनिक नियंत्रण होता है।

(इ) ग्रुप केन्द्र :-

ग्रुप केन्द्र अपने संबद्ध यूनिटों की गृह-व्यवस्था का कार्य कर रहे हैं। ग्रुप केन्द्र संबद्ध यूनिटों को सेक्टर स्टोर की खरीद, आबंटन, डिफेंस स्टोर, ई.सी.सी. इत्यादि के लिए उत्तरदायी हैं।


इतिहास :-

पंजाब में 1987-88 में संजीदा आतंकवादी गतिविधियों के कारण इस सेक्टर की परिचालन सेक्टर पंजाव एवं चंण्डीगढ़ के तौर पर चण्डीगढ़ में स्थापना की गई थी । पंजाब में शांति बहाली के बाद जम्मू कश्मीर विशेषकर जम्मू क्षैत्र में बढ़ती सुरक्षा परिस्थितियों के कारण इसे दिनांक 10/09/1998 को जम्मू अंचल कठुआ, जम्मू, शाम्भा, राजोरी, पूंछ, उधमपुर, डोडा, रियासी रामवन और किस्तवाड की परिचालनिक दायित्तव के लिए जम्मू प्रतिस्थापित किया गया । बल की कार्य प्रणाली को कारगर बनाने के लिए इसे दिनांक 3/11/1988 से जम्मू अंचल की परिचालकिय उत्तरदायित्व के अतिरिक्त उप महानिरीक्षक, जम्मू (6,20,22,126 एवं 198 बटा0), उप महानिरीक्षक, हीरानगर (16, 72, 166, 231 एवं 242 बटा0) , उप महानिरीक्षक, जम्मू नोर्थ, ग्रुप केन्द्र, बनतालाब, ग्रुप केन्द्र हीरानगर, ए.डब्लू.एस और एफ.डब्लू.एस. के लिए प्रशासनिक सेक्टर घोषित किया गया ।

Go to Navigation